Previous कोट्टणद सोमम्मा (1160) कोल शांतय्या (1160) Next

कोंडे मंचण्णा की पत्नी लक्ष्मम्मा (1160)

पूर्ण नाम: कोंडे मंचण्णा की पत्नी लक्ष्मम्मा
वचनांकित : अगजेश्वरलिंग

*

आयु पूरा होते ही मरण प्राप्त होता है।
व्रत चूकने पर शरीर का अंत होता है।
उससे श्रेष्ठव्रत है कहनेवाले व्यर्थ लोगों को
पसंद न करेगा हमारा अगजेश्वरलिंग। / 1307 [1]

राजा बिज्जळ के मंत्री कोंडे मंचण्णा की पत्नी लक्ष्मम्मा ने 'अगजेश्वरलिंग' वचनांकित से एक वचन मात्र लिखा है। इसमें व्रतहीन डांभिकों की तीक्ष्ण निंदा की गयी है। नीलामणगावात

References

[1] Vachana number in the book "VACHANA" (Edited in Kannada Dr. M. M. Kalaburgi), Hindi Version Translation by: Dr. T. G. Prabhashankar 'Premi' ISBN: 978-93-81457-03-0, 2012, Pub: Basava Samithi, Basava Bhavana Benguluru 560001.

सूची पर वापस

*
Previous कोट्टणद सोमम्मा (1160) कोल शांतय्या (1160) Next
cheap jordans|wholesale air max|wholesale jordans|wholesale jewelry|wholesale jerseys